सजना सयान हम नादान लिरिक्स, मदन राय के निर्गुण

सजना सयान हम नादान लिरिक्स, मदन राय

सजना सयान हम नादान लिरिक्स, मदन राय      बारी मोरी अबही उमिरिया बारी मोरी अबही उमिरिया आ विधाता दिनवा धई दिहले ए राम, बारी मोरी अबही उमिरिया आ विधाता दिनवा धई दिहले ए राम सजना सयान हम नादान त कइसे के गवानवा जाईब ए राम, सजना सयान हम नादान त कइसे के गवानवा जाईब … Read more