जे जे गइल से भुलाइल lyrics -भरत शर्मा व्यास निर्गुण

जनती जे जारल जईबू आग में दहेज के लिरिक्स- भरत शर्मा व्यास

जे जे गइल से भुलाइल lyrics -भरत शर्मा व्यास निर्गुण

                      जे जे गइल से भुलाइल lyrics -भरत शर्मा व्यास निर्गुण

दोहा– आ आ….आ… आ आ… आ          गारी हीं से उपजे कलह कष्ट और नीच              गारी हीं से उपजे कलह कष्ट और नीच
हारी चले सो साधु है लागी चले सो नीच

Read more

error: Content is protected !!