सखी रे प्रेम नगर छूटल जाला रे निर्गुण लिरिक्स

सखी रे प्रेम नगर छूटल जाला रे       ( निर्गुण ) मोरा जियारा बड़ा घबराला रे मोरा जियारा बड़ा घबराला सखी रे प्रेम नगर छूटल जाला रे मोरा जियारा बड़ा घबराला रे मोरा जियारा बड़ा घबराला   बाबा गइले बजार रुपया लेइके दुई चार बाबा गइले बजार रुपया लेइके दुई चार सखी रे ललकी … Read more

ममहर से अइले भरत लिरिक्स, पूनम शर्मा के भजन

ममहर से अइले भरत .. ममहर से अइले भरत गिरले मुरझाई के अयोध्या ना रहब हम बिना रघुराई के अयोध्या ना रहब हम बिना रघुराई के ममहर से अइले भरत गिरले मुरझाई के अयोध्या ना रहब हम बिना रघुराई के अयोध्या ना रहब हम बिना रघुराई के रोई रोई कहे भरत केकई अपना माई से … Read more

ऐसी लागी लगन मीरा हो गई मगन मीरा भजन लिरिक्स

ऐसी लागी लगन मीरा हो गई मगन (ऐसी लागी लगन मीरा भजन लिरिक्स ) सा रे ग प ध नी ध प ग रे ग म ग रे ग ग सा रे ग प ग रे सा नी रे सा नी नी प नी रे म प ध प ग म ग रे सा रे … Read more

भँवरवा के तोहरा संघे जाइ लिरिक्स, मदन राय लिरिक्स

भँवरवा के तोहरा संघे जाइ , भँवरवा के तोहरा संघे जाइ। के तोहरा संग जाइ   (लिरिक्स) भँवरवा के तोहरा संघ जाइ , भँवरवा के तोहरा संघ जाइ। आवे के बेरिया सब केहु जाने , दुआरा पे बाजेला बधाई, बधाई दुआरा पे बाजेला बधाई आवे के बेरिया सब केहु जानेला , दुआरा पे बाजेला बधाई, बधाई  … Read more

जहिया चोट लागी कान्हा चितवन के भजन लिरिक्स

जहिया चोट लागी कान्हा

जहिया चोट लागी कान्हा चितवन के भजन लिरिक्स गाना– जहिया चोट लागी कान्हा चितवन के तर्ज- जईसे रोज आवेलु तु टेर सुनी के फिल्म– गंगा किनारे मोरा गांव गीतकार– अरुण कुमार जहिया चोट लागी कान्हा चितवन के रहिया भूलाई जईबा मधुबन के जहिय चोट लागी कान्हा चितवन के रहिया भूलाई जईबा मधुबन के खाली अभी … Read more

मरजी बा राउर अरजिया के मानी लिरिक्स| भरत शर्मा व्यास लिरिक्स

मरजी बा राउर अरजिया के मानी लिरिक्स मरजी बा राउर मरजी बा राउर अरजिया के मानी कहिती त आनती कठौती मे पानी कहिती त आनती कठौती मे पानी मरजी बा राउर मरजी बा राउर हो…. मरजी बा राउर अरजिया के मानी कहिती त आनती कठौती मे पानी कहिती त आनती कठौती मे पानी   रउरा … Read more

आजु मिथिला नगरिया निहाल सखिया लिरिक्स| मैथिली भजन लिरिक्स

आजु मिथिला नगरिया निहाल सखिया लिरिक्स

आजु मिथिला नगरिया निहाल सखिया लिरिक्स आजु मिथिला नगरिया निहाल सखिया, आज मिथिला नगरिया निहाल सखिया चारों दुलहा में बड़का कमाल सखिया चारों दुलहा में बड़का कमाल सखिया शिश मणी मउरिया, कुण्डल सोहे कनमा, कारे कारे कजरारे जुलमी नयनमा, लाल चंदन सोहे इनके भाल सखिया, लाल चंदन सोहे इनके भाल सखिया          … Read more

बड़ सुख सार पाओल तुअ तीरे लिरिक्स, विद्यापति गंगा स्तुति

बड़ सुख सार पाओल तुअ तीरे लिरिक्स

बड़ सुख सार पाओल तुअ तीरे लिरिक्स बड़ सुख सार पाओल तुअ तीरे छारयित निकट नयन बह नीरे बड सुख सार पाओल तुअ तीरे छारयित निकट नयन बह नीरे, बड़ सुख……   कर जोड़ी विनमऊ विमल तरंगे कर जोड़ी विनमऊ विमल तरंगे पुणी दर्शन होवै पुनिमती गंगे पुणी दर्शन होवै पुनिमती गंगे बड सुख सार … Read more

माई दरबार चल भजन लिरिक्स, भरत शर्मा व्यास भजन

माई दरबार चल भजन (माई दरबार चल भजन लिरिक्स) माईं दरबार चल माई दरबार सांचा दरबार चल सांचा दरबार शारदा भवानी के जग कल्याणी के शारदा भवानी के जग कल्याणी के मनसाक जानी के बोल जयकार माई दरबार चल माई दरबार सांचा दरबार चल सांचा दरबार   कथा पुराण बाटे जानत जहान बाटे शारदा माई … Read more

आते रहियो ओ घनश्याम रे भजन लिरिक्स, कृष्ण भजन

आते रहियो ओ घनश्याम

भजन– आते रहियो ओ घनश्याम रे तर्ज- ठाड़े रहियो ओ बांके या गीतकार- अरुण कुमार आते रहियो ओ घनश्याम रे आतें रहियो ओ घनश्याम रे-२ आतै रहियो.. आतें रहियो… आतें रहियो आंते रहियो ओ घनश्याम रे आंते रहियो ओ घनश्याम रे बांके बिहारी कृष्ण मुरारी, बांके बिहारी कृष्ण मुरारी लाज रखो हे पीतांबर धारी. ई…. … Read more

पिया मोरा बालक हम तरूणी गे लिरिक्स, विद्यापति गीत लिरिक्स

पिया मोरा बालक हम तरूणी गे लिरिक्स पिया मोरा बालक हम तरूणी गे पीया मोरा बालक हम तरूणी गे कौन तप चुकलौं भेलौं जननि गे पिया मोर बालक…  (घर हीं मे माई के बुलाईब)   पहिरि लेल सखी दछिनक चीर पिया के देखैते मोरा दगध शरीरे पियाक देखैते मोरा दगध शरीरे पिया लेल गोद कै … Read more

घर हीं मे माई के बुलाईब लिरिक्स, भरत शर्मा व्यास

घर हीं मे माई के बुलाईब लिरिक्स, भरत शर्मा व्यास घर हीं मे माई के बुलाईब मंदिर बनवाईब हो मईया लाली रे चंदनी टंगवाईब भजन गवाईब हो (कोरस- मैया लाली रे चंदनी टंगवाईब भजन गवाईब हो) घर हीं मे माई के बुलाईब मंदिर बनवाईब हो मैया लाली रे चंदनी टंगवाईब भजन गवाईब हो (कोरस- मैया … Read more

error: Content is protected !!