बड़ सुख सार पाओल तुअ तीरे लिरिक्स, विद्यापति गंगा स्तुति

बड़ सुख सार पाओल तुअ तीरे लिरिक्स

बड़ सुख सार पाओल तुअ तीरे लिरिक्स

बड़ सुख सार पाओल तुअ तीरे

छारयित निकट नयन बह नीरे

बड सुख सार पाओल तुअ तीरे

छारयित निकट नयन बह नीरे, बड़ सुख……

 

कर जोड़ी विनमऊ विमल तरंगे

कर जोड़ी विनमऊ विमल तरंगे

पुणी दर्शन होवै पुनिमती गंगे

पुणी दर्शन होवै पुनिमती गंगे

बड सुख सार पाओल तुअ तीरे

छारयित निकट नयन बह नीरे, बड़ सुख……

 

एक अपराध क्षामब मोरी जानी

एक अपराध क्षामब मोरी जानी

परसल माय पाये तुअ पानी

परसल माय पाये तुअ पानी

बड सुख सार पाओल तुअ तीरे

छारयित निकट नयन बह नीरे, बड़ सुख……

 

की करब जप तप जोग ध्याने

की करब जप तप जोग ध्याने

जनम कृतारथ एकहिं सनाने

जनम कृतारथ एकहिं सनाने

बड सुख सार पाओल तुअ तीरे

छारयित निकट नयन बह नीरे, बड़ सुख……

 

भनही विद्यापति समदओं तोहे

भनही विद्यापति समदओं तोहे

अंत काल जनी बिसरहुं मोहे

अंत काल जनी बिसरहुं मोहे

बड सुख सार पाओल तुअ तीरे

छारयित निकट नयन बह नीरे, बड़ सुख……

Love shayari yahan dekhne

1 thought on “बड़ सुख सार पाओल तुअ तीरे लिरिक्स, विद्यापति गंगा स्तुति”

Leave a Comment

error: Content is protected !!