अंखियां में भरीके आसारवा Lyrics- भरत शर्मा व्यास निर्गुण

अंखियां में भरीके आसारवा Lyrics- भरत शर्मा व्यास निर्गुण 

            अंखियां में भरीके आसारवा Lyrics- भरत शर्मा व्यास निर्गुण

  1. दोहा-– तीरथ नाहाए एक फल..अ.                                      संत मिलन फल चा..र
    सदगुरु मिले अनेक फल.. अ
    कहे कबीर बिचा..र
  2. आरे अंखियां में भरीके आसारवा                                    ताकत बानी पियावा के हो राह,                                      ताकत बानी पियावा के हो राह

अंखियां में भरीके आसारवा,                                       अंखियां में भरी के आसारवा                                          ताकत बानी पियावा के हो राह
ताकत बानी पियावा के हो राह

लाली रंग चुनरी सबूज रंग लहंगा
ताकत बानी पियावा के हो राह
नैनन में कजरा पिरितिया के मांहंगा
कोरवा में लेइके सिन्होरावा, हो… हो.. हो
कोरवा में लेइके सिन्होरावा                                              कोरवा में लेइके सिन्होरावा
ताकत बानी पियावा के हो राह
ताकत बानी पियावा के हो राह

रची रची मेहंदी से रचली हथेलीया
कजारा में जुरावा  कि चंपा चमेलीया
रची रची मेहंदी से रचली हथेलीया
कजारा में जुरावा  कि चंपा चमेलीया
खोइंछा से भरी के ,खोइंछा से भरी के
खोइंछा से भरी के अचारवा                                           खोइंछा से भरी के अचारवा
ताकत बानी पियावा के हो राह
ताकत बानी पियावा के हो राह

एक ओरी सजना के उमरे सनेहिया
एक ओरी काहे दो सुखल जाला देहीया
एक ओरी सजना के उमरे सनेहिया
एक ओरी काहे दो सुखल जाला देहीया
केशरी छुटे केशरी विछुटे आरे केशरी जी..
आरे..छुटे नइहरवा, केशरी छुटेला नइहरवा                            केेेेशरी छुटेला नइहरवा ताकत बानी पियवा के हो राह

अंखियां में भरी के आसारवा ताकत बानी पियावा के हो राह

https://www.youtube.com/watch?v=pW4J8IBCHsw

Leave a Comment

error: Content is protected !!